समाचार और लेख

archives

saif

swach bharat

डॉ. टी. वेंकटेशन

Staff Image
Dr. T. Venkatesan
Phone Number
080-2351-1982
Fax
080-2341-1961
Professional Experience
22 वर्ष
Qualification
एम. एससी. (कृषि कीटविज्ञान), पीएच. डी. (कृषि कीटविज्ञान)
Specilization
वर्तमान में कीटों के आणविक लक्षणवर्णन और डीएनए बारकोडिंग, कीटनाशकों के प्रतिरोध पर कार्यरत।
Training
संयुक्ति राष्ट्रि कृषि विभाग, गेनेस्वाकइल, फ्लोरिडा, यूएसए में दिसंबर 2004 के दौरान कीटों के प्राकृतिक शत्रुओं का इन विट्रो पालन।
वेस्टम विर्जिनिया स्टेोट यूनिवर्सिटी, यूएसए में दिनांक 21 मार्च से 20 जून, 2011 के दौरान एलील माइनिंग।
गुलेफ युनिवर्सिटी, कनाडा में 6th इंटरनेशनल बारकोड ऑफ लाइफ कॉन्फ्रें स में दिनांक 17 से 22 अगस्त् 2015 के दौरान सहभागिता।
Awards and Honours
सोसायटी फॉर बायोकंट्रोल एडवांसमेंट, बेंगलुरु का सचिव।
एएपीएमएचई (एसोसएशन फॉर एडवांसमेंट इन पेस्टग मैनेजमेंट इन हॉर्टिकल्चइरल इकोसिस्टंम्सक) का अध्येईता, 2012.
जैव प्रौद्योगिकी विभाग और प्राणीविज्ञान विभाग, मैसूर विश्वहविद्यालय, मैसूर में पीएच. डी. के लिए गाइड के रूप में अभिज्ञानित।
कीटविज्ञान विभाग, यूएएस बेंगलुरू की सलाहकार समिति के सदस्यर के रूप में अभिज्ञानित।
वर्ष 2012 के दौरान कर्नाटक पशुचिकित्सास, पशु और मात्य्त। की विज्ञान विभाग विश्वेविद्यालय, हेब्बजल, बेंगलुरु के सलाहकार समिति सदस्य के रूप में अभिज्ञानित।
भारत में सोसायटी फॉर बायोकंट्रोल एडवांसमेंट, बेंगलुरु, भारत का जीवन पर्यन्त सदस्य ।
एशिएन और प्रशांत नारियल समुदाय, जकार्ता, इंडोनेशिया का सदस्य ।
एसोसएशन फॉर एडवांसमेंट इन पेस्टड मैनेजमेंट इन हॉर्टिकल्चंरल इकोसिस्टजम्स का जीवन पर्यन्तए सदस्यं।
एशिएन एग्री-हिस्ट री फाउंडेशन सिकंदराबाद, भारत का संस्था्पक सदस्यत।
सोसायटी फॉर बायोकंट्रोल एडवांसमेंट, बेंगलुरू का अध्येंता।
Brief Achievements
विभिन्नई कीटों का आणविक लक्षणवर्णन कर उनके डीएनए बारकोड सृजित किए गए और उन्ंनाड एनसीबीआई, यूएसए और बारकोड ऑफ लाइफ डाटाबेस (बोल्डक), कनाडा के पास जमा कराया गया।
हेलिकोवर्पा आर्मिगेरा की विभिन्नट समष्टियों में एलीलिक विविधता का अध्य यन करने के लिए कार्यात्मपक माइक्रोसेटलाइट मार्कर विकसित किए गए।
डायमंडबैक मोथ में कीटनाशक प्रतिरोध और कीटनाशक विघटन में एंडोसिम्बाियोन्ट्स की भूमिका का अध्यमयन किया गया।
भारत में क्राइसोपर्ला जेस्ट्रोयवी सिलेमी हेनरी एट. अल. की उत्पभत्ति की पुष्टि की।
भारत में मौजूद सी. जेड. सिलेमी की विभिन्न समष्टियों के आनुवंशिक वंशक्रम को संग्रहित किया गया और फील्डर समष्टियों में कीटनाशक प्रतिरोध की आवृत्ति को पहली बार रिपोर्ट किया गया।
कीटनाशक सहिष्णु् क्राइसोपर्ला जैस्ट्रो वी सिलेमी विकसित किया गया।
क्राइसोपिड परभक्षियों के लिए कृत्रिम आहार विकसित किए गए और उनके संबंध में एक पेटेंट दाखिल किया गया। बड़े पैमाने पर उत्पा दन का मानकीकरण किया गया।, नारियल ब्लैरकहेड कैटरपिलर के विरूद्ध गोनियोजुस नेफानटिडिस को फील्ड् में छोड़कर अध्यगयन किया गया।
Recognition
बायोलॉजीकल कंट्रोल में शानदार योगदान देने के लिए प्रोफेसर टी. एन. अनंतकृष्णलन पुरस्कातर प्राप्ती किया।
विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार से यात्रा अनुदान पुरस्काार डीएसटी-2015 प्राप्त किया गया।
प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार से यात्रा अनुदान पुरस्का र डीबीटी-2015 प्राप्तप किया गया।
सर्वश्रेष्ठर जैविक नियंत्रण अनुसधान एसबीए के लिए एसबीए-डॉ. बी. एस. भुमान्नाएवुर टीम रिसर्च पुरस्कािर प्राप्ति किया। (डॉ. एस. के. जलाली, डॉ. टी. वेंकटेशन, डॉ. आर. रांगेश्ववरन, डॉ. के. श्रीनिवासमूर्ति, डॉ. जे. पूरानी, डॉ. सिवाकुमार, डॉ. एस. श्रीराम एवं डॉ. अब्राहम वर्गीस)।
दिनांक 24 सितंबर 2015 को भाकृअनुप-एनबीएआईआई के स्था पना दिवस के दौरान वैज्ञानिक श्रेणी के लिए ''उद्यमशीलता पुरस्का।र'' प्राप्तआ किया।
कीटों के आणविक अध्यीयनों और द्विवर्ष 2014-15 के लिए फसल नाशीजीवों के जैविक नियंत्रण में उत्कृयष्टय योगदान देने के लिए प्रोफेसर टी. एन. अनंतकृष्णैन फाउंडेशन पुरस्का्र प्राप्तण किया।
मास रियरिंग एंड क्वा-लिटी एस्यु,रेंश पर आईओबीसी वैश्विक कार्यसमूह की 13वीं कार्यशाला में सर्वश्रेष्ठ मौखिक प्रस्तुएतीकरण पुरस्कापर प्राप्ति किया गया, मोवेनपिक होटल एंड स्पान, बेंगलुरू, भारत, 6-8 नवंबर, 2013.
बागवानी फसलों; उभरती चुनौतियों और स्था2यी नाशीजीव प्रबंधन में पादप संरक्षण पर दिनांक 25 से 28 अप्रैल 2012 के दौरान चौथी राष्ट्रीाय संगोष्ठीक में सर्वश्रेष्ठस मौखिक प्रस्तु तीकरण पुरस्का र प्राप्तौ किया गया।
दिनांक 03-05 नवंबर, 2014 के दौरान कृषि और बागवानी विज्ञानों पर दूसरे अंतर्राष्ट्रीवय सम्मेकलन में सर्वश्रेष्ठन पोस्ट2र पुरस्काकर प्राप्ति किया।
सोसायटी फॉर बायोकंट्रोल एडवांसमेंट (जर्नल ऑफ बायोलॉजीकल कंट्रोल), बेंगलुरू का उपाध्यीक्ष।
सोसायटी फॉर बायोकंट्रोल एडवांसमेंट (एबीए), बेंगलुरु, का अध्येलता (2008)।
एएपीएमएचई (एसोसएशन फॉर एडवांसमेंट इन पेस्टफ मैनेजमेंट इन हॉर्टिकल्चारल इकोसिस्ट म्स।) का अध्येईता, 2012.
द् जर्नल ऑफ इनवॉयरमेंटल बायोलॉजी, लखनऊ के संपादकीय बोर्ड का सदस्यह।
पी.ए.जे.ए.एन.सी.ओ.ए. (PAJANCOA), पुडुचेरी में कृषि कीटविज्ञान में पीजी अध्यायन बोर्ड के सदस्य् के रूप में अभिज्ञानित।
जैव प्रौद्योगिकी विभाग, जैन विश्वखविद्यालय, बेंगलुरू में पीएच. डी. के लिए गाइड के रूप में अभिज्ञानित।
जैव प्रौद्योगिकी और प्राणीविज्ञान विभाग, मैसूर विश्वदविद्यालय, मैसूर में पीएच. डी. के लिए गाइड के रूप में अभिज्ञानित।
वन अनुसंधान संस्थाेन, देहरादून के साथ पंजीकृत काष्ठ् विज्ञान और प्रौद्योगिकी, बेंगलुरू में पीएच. डी. के लिए गाइड के रूप में अभिज्ञानित।
दिल्लीस विश्वयविद्यालय, दिल्ली ; तमिलनाडु कृषि विश्वकविद्यालय, कोयंबतुर; मणिपुर विश्वीविद्यालय, कर्नाटक में पीएच. डी. के लिए बाह्य परीक्षक के रूप में अभिज्ञानित।
कुवेम्पु‍ विश्व,विद्यालय, कर्नाटक के लिए एक बाह्य परीक्षक के रूप में अभिज्ञानित।
भाकृअनुप-औषधीय और संगधीय पादप अनुसंधान निदेशालय, आणंद, गुजरात की संस्थाञन अनुसंधान समिति के लिए बाह्य परीक्षक के रूप में अभिज्ञानित।
अन्नाधमलाई विश्वहविद्यालय, चिदंबरम, तमिलनाडु में बाह्य परीक्षक के रूप में अभिज्ञानित।
विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, नई दिल्लीप में परियोजनाओं की जांच के लिए विशेषज्ञ के रूप में अभिज्ञानित।
कीटविज्ञान विभाग, यूएएस बेंगलुरू की सलाहकार समिति के सदस्यक के रूप में अभिज्ञानित।
वर्ष 2012 के दौरान कर्नाटक पशुचिकित्सास, पशु और मात्य््ञाकी विज्ञान विभाग विश्वपविद्यालय, हेब्बजल, बेंगलुरु के सलाहकार समिति सदस्य के रूप में अभिज्ञानित।
भारत में सोसायटी फॉर बायोकंट्रोल एडवांसमेंट, बेंगलुरु, भारत का जीवन पर्यन्त सदस्य्।
एशियाई और प्रशांत नारियल समुदाय, जकार्ता, इंडोनेशिया का सदस्य ।
एसोसएशन फॉर एडवांसमेंट इन पेस्टल मैनेजमेंट इन हॉर्टिकल्चंरल इकोसिस्टजम्स का जीवन पर्यन्त सदस्यइ।
एशिएन एग्री-हिस्ट री फाउंडेशन सिकंदराबाद, भारत का संस्था्पक सदस्य ।
Publications
111
Selected Publications
वेंकटेशन, टी., रवि पी. मोर., रीता, बी., जलाली, एस. के., ललिता, वाई. और चाँदिश, आर. बी. 2016. डिफरन्सिएशन ऑफ सम इंडिजिनस एंड एक्सोपटिक ट्राइकोग्रामिटिड्स (हाइमेनोप्टेरा : ट्राइकोग्रामाटिडा) फ्रॉम इंडिया बेस्ड ऑन इंटरनल ट्रांसक्राइब्डो स्पेतसर-2 एंड साइटोक्रोम ऑक्सीाडेस - I मार्कर्स एंड देयर फाइलोजेनेटिक रिलेशनशिप। बायोलॉजीकल कंट्रोल, 101 : 130-137.
वेंकटेशन, टी., श्रीधर, वी., यान टॉमसन., जलाली, एस. के., बेहरा, जी., शांति, आर. एम., रविंदर कुमार, पद्मा., एन., गोपीनाथ, वी. और उमेश रेड्डी. 2015. यूज ऑफ एक्सडप्रैस्डज सिक्वेंमस टैग माइक्रोसेटलाइट मार्कर्स फॉर पॉप्यूफलेशन जेनेटिक रिसर्च ऑफ हेलिकोवर्पा आर्मीगेरा (लेपिडोप्टेरा: नोक्टुइडे) फ्रॉम इंडिया। कनाडियन एंटोमोलॉजिस्ट, 1-13. doi : 10.4039 / tce.2015.47.
वेंकटेशन, टी., रीता, बी., जलाली, एस. के., ललिता, वाई., बल्लाल, सी. आर., रवि पी. मोर और अब्राहम वर्गीस. 2015. मॉलिक्यू2लर आइडेंटीफिकेशन ऑफ एग पैरासिटॉइड ट्राइकोग्राम्मा् स्पीडसीस ऑफ इंडिया यूजिंग COI एंड ITS-II रीजन्स एंड देयर फाइलोजेनेटिक रिलेशनशिप्स्। जीनोम, 58 (5) -291-292. 10.1139gen-2015-0087.
अंकिता गुप्ता, वेंकटेशन, टी और रवि पी., मोर। 2016. मोर्फोलॉजीकल एंड मॉलिक्यू1लर करेक्ट्रा इजेशन ऑफ रियर्ड पैरासिटॉइड वैस्स् स ऑफ द् जीनस ग्ला इप्टाेपेन्टेमलेस असोसिएटेड विद लेपिडोप्टेरा इन इंडिया। प्लोइस वन, डीओआई : 10.1371 / जर्नल. प्लोवस वन. 0150765.
प्रतिभा, एम., वेंकटेशन, टी. और जलाली, एस. 2016. रेसिस्टेंेस इन मेकोनेलिकोकुस हिर्सुटुस (ग्रीन) इन इंडिया टू सलेक्टेवड इनसेक्टिसाइड्स एंड क्वां टिफिकेशन ऑफ एंजाइम्स1 इम्पाटर्टिंग रेसिस्टेंोस। क्रॉप प्रोटेक्शकन, 89 : 116-122.
श्रीधर, वी., वेंकटेशन, टी., सुनील जे., जलाली, एस. के., लक्ष्मण रेड्डी, डी. सी., पद्मा, एन., यान टी., गोपीनाथ और उमेश, के. आर. 2016. इन सिलिको माइनिंग ऑफ माइक्रोसेटेलाइट्स एंड एनालिसिस ऑफ जेनेटिक डायवर्सिटी अमंग इंटर एंड इंट्रा-जेनेरिक ऐफिड्स ऑफ सब-फैमिली, ऐफिडिना''। एंटोमोलोगिया एक्सपेरिमेंटलिस एट एप्लीफकाटा. DOI. 10.1111 / eea.12460.
राम्या, एस. एल., वेंकटेशन, टी., श्रीनिवासमूर्ति, के., जलाली, एस. के. और अब्राहम वर्गीस. 2016. डिग्रेडेशन ऑफ ऐसिफेट बाइ एंटेरोबेक्टएर एसबुरिया, बेसिलस सेरेअस एंड पेनटोइया एग्गालोमेरेन्सो आयसोलेटेड फ्रॉम डायमंडबैक मोथ प्लूटेला ज़ाइलोस्टेला। जर्नल ऑफ इनवॉयरमेंटल बायोलॉजी, 37: 611-618.
राम्या, एस. एल., वेंकटेशन, टी., श्रीनिवासमूर्ति, के., जलाली, एस. के. 2016. डिटेक्श न ऑफ कार्बोक्सीबलेसटेरेस एंड इस्टे.रेस एक्टिविटी इन कल्चंरेबल गट बैक्टीीरियल फ्लोरा आयसोलेटेड फ्रॉम डायमंडबैक मोथ, प्लूटेला ज़ाइलोस्टेला फ्रॉम इंडिया एंड इट्स पासिबल रोल इन इंडोक्सा्कार्ब डिग्रेडेशन। ब्राजीलियन जर्नल ऑफ माइक्रोबायोलॉजी. doi: 10.1016 / j.bjm.2016.01.012.
राम्या, एस. एल., वेंकटेशन, टी., श्रीनिवासमूर्ति, के., जलाली, एस. और अब्राहम वर्गीस. 2015. फील्डा-इवोल्ड्न इनसेक्टिसाइड रेसिस्टें स एंड बायोकैमिकल वेलिडेशन ऑफ एंजाइम एक्टिविटीज इन डायमंडबैक मॉथ, प्लूटेला ज़ाइलोस्टेला। इंडियन जर्नल ऑफ प्लांट प्रोटेक्शन. 44 : 9-15.
शशांक, पी. आर., ओझा, आर., वेंकटेशन, टी., जलाली, एस. और भानु, के. आर. एम. 2015. मॉलिक्यु,लर करेक्ट्रा़इजेशन ऑफ ब्रिंजल शूट एंड फ्रूट बोरर, ल्यूसिनोडेस ऑर्बोनेलिस (गुइने) बेस्डर ऑन माइटोकॉन्ड्रियल मार्कर साइटोक्रोम ऑक्सीडेज I एंड देयर फ़ाइलोजेनेटिक रिलेशनशिप। इंडियन जर्नल ऑफ़ एक्सपेरिमेंटल बायोलॉजी, 52 : पीपी 51-55.
हेमलता बी. एन., वेंकटेशन टी., जलाली एस. के. और रीता बी. 2014. डिस्ट्री ब्यु.शन एंड करेक्ट्रा इजेशन ऑफ माइक्रोबायल कॉम्युसनिटीज इन क्रायसोपर्ला जेस्ट्रो वी सिलेमी, एन इंपोर्टेंट प्रिडेटर ऑफ सैप सकिंग पेस्ट्स्। अफ्रीकन जर्नल ऑफ माइक्रोबायोलॉजी रिसर्च, 8 (14) : 1492-1500.
वेंकटेशन, टी., श्रीधर, वी. यान, टी., पद्मा, एन., गोपीनाथ, वी., ऋषि, आर., जलाली, एस. के., कृष्णकुमार, एन. के. और उमेश, के. आर. 2011. जेनेटिक डिफरनसिएशन एंड जीन फ्लो अमंग द् हेलिकोवर्पा आर्मिगेरा कलेक्शेन्सव फ्रॉम चिली पैपर, पीजन पी, टोमाटो एंड कॉटन। प्लांकट एंड एनिमल जीनोम XX कॉन्फ्रें स टू बी हेल्ड् एट सेन डीगो, केलिफोर्निया, यूएसए फ्रॉम जनवरी 14-18, 2012.
श्रीधर, वी., वेंकटेशन, टी., यान, टी., पद्मा, एन., गोपीनाथ, वी., ऋषि, आर., जलाली, एस. के., जोशी, एस., कृष्णकुमार, एन. के. और उमेश, के. आर. 2011. एलील माइनिंग फ्रॉम जीन स्पे सिफिक माइक्रोसेटेलाइट्स अमंग डायवर्स ऐफिड स्पीडसीस कलेक्श.न्सय। प्लांट एंड एनिमल जीनोम XX कॉन्फ्रें स टू बी हेल्डं एट सेन डीगो, केलिफोर्निया, यूएसए फ्रॉम 14-18 जनवरी, 2012.
वेंकटेशन, टी., नेसिल एल. जलाली, एस. के., शायलेशा ए. एन. पूरानी, जे. और रवीन्द्र आर. जे. 2011. करेक्ट्रा इजेशन एंड आइडेंटीफिकेशन ऑफ असेरोफेगस पपाया नोयेस एंड स्का।फ, एन इंपोर्टेंट पैरासिटॉइड्स ऑफ इनवेसिव पपाया मीलीबग, पैराकोकुस मार्जिनिएटस विलियम्स एंड ग्रेनारा डे विलिंक थ्रू डीएनए बारकोड, जर्नल ऑफ़ बायोलॉजिकल कंट्रोल, 25 : 11-13.
वेंकटेशन, टी., जलाली, एस. के., मूर्ति, के. एस. और रवीन्द्र, आर. जे. और ललिता, वाई. 2009. ऑक्युेरेंस ऑफ इनसेक्टिसाइड रेस्सिटेंस इन फील्डन पॉप्यू लेशन्स, ऑफ क्राइसोपर्ला ज़स्ट्रोवी अराबिका हेनरी एट. अल. (न्यूरोप्रोटेरा : क्राइसोपिडे) इन इंडिया। इंडियन जर्नल ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसिस, 79 (11) : 910-912.
फेरकोविच, एस. एम., वेंकटेशन, टी., शापिरो, जे. पी. और कारपेंटर, जे. ई. 2007. प्रजेंटेशन ऑफ आर्टिफिसियल डाइट: इफेक्ट ऑफ साइज ऑफ डाइट कैप्सू ल्सी ऑन एग प्रोडक्शरन ऑफ ओरियस इंसिडियोसुस (से) (हेटेरोप्टेरा : एंथोकोरिडे). फ्लोरिडा एंटोमोलॉजिस्ट, 90 (3) : 502-508.
हेनरी, सी. एस. ब्रूक्स, एस. जे. जॉनसन जे. बी. वेंकटेशन, टी. और ड्यूली, पी. 2010. द् मोस्टज इंपोर्टेंट लेसविंग स्पीफसीस इन इंडियन एग्रीकल्चैरल क्रॉप्स्, क्रायसोपर्ला सिलेमी (इस्बबन-पीटरसन), इज ए सबस्पीलसीस ऑफ क्राइसोपर्ला जैस्ट्रोवी (इस्ब,न पीटरसन) (न्यूरोप्टेरा : क्राइसोपिडे)। जर्नल ऑफ नेचुरल हिस्ट री, 44 : 2543-2555.
अशोक कुमार, जी., जलाली, एस. के., वेंकटेशन, टी. स्टा उथामर, आर., नितरंजन, पी. और ललिता, वाई. 2009. इंटर्नल ट्रांसक्राइब्ल7 स्पे3सर-2 रिस्ट्रिक्शकन फ्रेगमेंट लेंग्थो पॉलीमोर्फिज्मा (ITS-2-RFLP) टूल्सॉ टू डिफरेनशिएट सम एक्सो्टिक एंड इंडिजिनस ट्राइकोग्राम्मािटिड एग पैरासिटॉइड्स इन इंडिया। बायोलॉजीकल कंट्रोल, 49 : 207-213.
Technology Developed and Commercialized

 क्राइसोपर्ला जैस्ट्रो वी सिलेमी  (पीटीएस-8), जो चूषक नाशीजीवों का एक महत्ववपूर्ण परभक्षी है, की कीटनाशक सहिष्णुं प्रजाति विकसित की गई जिसे 2010; नवंबर 2013 के दौरान निजी उद्योगों को हस्तां तरित (पूर्ण अधिकार के बिना) किया गया।